Planets Name in Hindi | ग्रहों के नाम

Planets Name in Hindi: दोस्तों आज हम इस पोस्ट में आपको सौरमंडल से जुड़ी सभी जानकारियाँ प्रदान करने वाले हैं। सौरमंडल के बारे में तो आप सभी ने सुना ही होगा लेकिन क्या आप जानते हैं कि सौरमंडल के ग्रहों के नाम क्या है अगर आप Planets Name in Hindi के बारे में नहीं जानते हैं तो आज का लेख आपके लिए उपयोगी साबित होगा। क्योंकि इस लेख के माध्यम से आपको ग्रह के बारे में सभी जानकारी जानने को मिलेगी इसके अलावा हम आपको सौर मंडल क्या है और ग्रह क्या है के बारे में विस्तार भी बताएंगे। साथ ही साथ हम आपको video भी देंगे जिसको आप देख के और भी अच्छे से Planets Name in Hindi के बारे में जान पाएंगे।

Table of Contents

जब हम इन ग्रहों को पृथ्वी से देखते हैं तो यह हमें बहुत छोटे लगते हैं लेकिन वास्तव में ग्रहों का आकार बहुत बड़ा होता है। यदि हम मनुष्य की बात करें तो मनुष्य किसी भी एक ग्रह के कण की बराबर भी नहीं है इसके अलावा आपको बता दें कि Astrology (एस्ट्रोलॉजी) भी ग्रहों के अनुसार ही कार्य करती है।

जबकि यह भूगोल की बेसिक (Basic) जानकारी है लेकिन बहुत से लोगों को इनके बारे में जानकारी नहीं है कई बार बच्चों से परीक्षा में भी यह सवाल पूछा जाता है कि ग्रहों के नाम बताएँ पर अधिकतर बच्चे इसकी जानकारी ना होने के कारण जवाब नहीं दे पाते हैं। हालांकि आमतौर पर सूर्य, चंद्रमा, बुध, मंगल आदि ग्रहों के नाम बता देते हैं लेकिन 8 ग्रहों के नाम नहीं बता पाते हैं।

ग्रहों के बारे में अधिक जानकारी इसके अलावा आपको एक अहम जानकारी दें कि हमारे सौरमंडल में कुल 8 ग्रह है जबकि पहले 9 ग्रह हुआ करते थे लेकिन अब 9 ग्रहों में से 1 ग्रह प्लूटो को इस श्रेणी से निकालकर इसे बोने ग्रह की श्रेणी में डाल दिया गया है। इस कारण वर्तमान में सौरमंडल में कुल 8 ग्रह हैं।

Planets Name in Hindi

Planets Name in Hindi And English

Planets ImagePlanets Name in HindiPlanets Name in English
 बुध (Budh)Mercury (मरकरी)
 शुक्र (Shukra)Venus (वेनस)
 पृथ्वी (Prithvi)Earth (अर्थ)
 मंगल (Mangal)Mars (मार्स)
 बृहस्पति (Brihaspati)Jupiter (जूपिटर)
 शनि (Shani)Saturn (सैटर्न)
 अरुण (Arun)Uranus (यूरेनस)
 वरुण (Varun)Neptune (नेपच्यून)

ग्रह क्या है | What is The Planet

सूर्य या किसी अन्य तारे के चारों ओर परिक्रमा करने वाले खगोलीय पिंड को ग्रह कहते हैं जिस प्रकार सूर्य एक तारा है और इसके चारों ओर चक्कर लगा रहे खगोलीय पिंड ग्रह हैं। ग्रह अलग-अलग प्रकार होते हैं। इनके पर्याप्त मात्रा में गुरुत्वाकर्षण बल होता है यह गुरुत्वाकर्षण बल के कारण हैं पर्याप्त निश्चित कक्षा दूरी पर चक्कर लगाते हैं इसके आसपास किसी दूसरे खगोलीय पिंड का झुंड नहीं होता है यानी इनके आसपास का क्षेत्र बिल्कुल साफ होता है।

लेकिन बहुत से ऐसे पिंड भी होते हैं जो कि अन्य सभी पिंडों के अनुरूप आगे पीछे जाते रहते हैं इनको Planets या ग्रह कहा जाता है अधिक घूमने वाले इस प्रकार के पिंडो को घुमक्कड़ ग्रह कहा जाता है। Planet एक लैटिन भाषा का शब्द है जिसका अर्थ इधर-उधर घूमने होता है यही कारण है कि इन पिंडों को अंग्रेजी में Planet और हिन्दी में ग्रह कहा जाता है।

इस सौरमंडल में 8 ग्रह है इन आठ ग्रहो के नाम हमने आपको ऊपर बताए हैं अब हम आपको इन ग्रहों के बारे में विस्तार में बताएंगे।

Mercury (बुध)

बुध को अंग्रेजी भाषा में Mercury कहा जाता है यह ग्रह सूर्य के सबसे करीब है इस ग्रह पर वायुमंडल की कमी है इसलिए इस ग्रह पर जीवन संभव नहीं है इस ग्रह का तापमान पृथ्वी से बहुत ही अलग है बुध ग्रह पर दिन में 427 डिग्री सेल्सियस और रात में 173 डिग्री सेल्सियस होता है।

  • सौरमंडल का सबसे छोटा और सूर्य के सबसे निकटतम ग्रह है।
  • बुध ग्रह पर दिन का तापमान 42 डिग्री सेल्सियस और रात का तापमान 173 डिग्री सेल्सियस होती है।
  • बुध ग्रह पृथ्वी की तरह ही एक चट्टानी पिंड है जो कि सौर मंडल के चार स्थलीय ग्रह में से एक है।
  • बुध ग्रह 70% धातु व 30% से लेकर पदार्थ से मिलकर बना हुआ है साथ ही यह है आकार में ब्रह्मांड के बड़े उपग्रहों गेनीमेड और टाइटन से छोटा है लेकिन वजन में इनसे भारी होता है।
  • इसका कोई उपग्रह नहीं है।
  • यह सुबह और शाम को ही दिखाई देता है।
  • सर्वाधिक दैनिक तापांतर 600 डिग्री सेल्सियस इसी गृह का है।
  • बुध ग्रह पर पृथ्वी या अन्य ग्रहों की तरह मौसम नहीं बदलते हैं।
  • इस ग्रह को मध्य रात्रि को नहीं देखा जा सकता है।
  • देखने में यह ग्रह Dark Gray यानी गहरे भूरे रंग का दिखाई देता है।

शुक्र (Venus)

शुक्र को अंग्रेजी में Venus कहते हैं और यह एक ऐसा ग्रह है जो कि सूर्य के दूसरे सबसे नजदीक ग्रह माना जाता है शुक्र ग्रह पर जीवन संभव नहीं है क्योंकि इस ग्रह पर करीब 1.90% तक कार्बन डाइऑक्साइड गैस है शुक्र ग्रह पृथ्वी के सबसे नजदीक है इस ग्रह को सूर्य के चक्कर काटने के लिए करीब 255 दिन का समय लगता है।

  • शुक्र सौरमंडल का दूसरा सबसे निकटतम ग्रह है।
  • इस ग्रह का कोई उपग्रह नहीं है।
  • शुक्र ग्रह का नाम प्रेम और सौंदर्य की रोमन देवी के नाम पर रखा गया था।
  • इस ग्रह की सतह पर वायुमंडल का दबाव पृथ्वी की सतह की तुलना में लगभग 92 व गुना अधिक है।
  • यह सौरमंडल का सबसे गर्म ग्रह है।
  • यह सबसे गर्म तथा सबसे चमकीला ग्रह है इसका तापमान लगभग 462 डिग्री सेल्सियस तक रहता है।
  • शुक्र ग्रह की पृथ्वी से दूरी 2.6 करोड़ मील है और सूर्य से इसकी दूरी6.72 करोड़ मील है।
  • शुक्र ग्रह चंद्र के बाद रात्रि में चमकने वाला दूसरा सबसे चमकदार ग्रह है।

पृथ्वी (Earth)

पृथ्वी को अंग्रेजी में Earth कहते हैं इसके बारे में तो आप सभी जानते ही होंगे Earth को पृथ्वी, धरती आदि नामों से भी जाना जाता है। पृथ्वी को सूरज के करीब होने में तीसरा स्थान प्राप्त है यह माना जाता है कि केवल पृथ्वी पर ही जीवन संभव है यह है ही नहीं बल्कि यह भी माना जाता है कि पृथ्वी की आयु करीब 4.543 बिलियन वर्ष है पृथ्वी को सूर्य का चक्कर काटने में करीब 365 दिन का समय लगता है।

  • सूर्य पृथ्वी से दूरी के स्थान पर तीसरा ग्रह है और इस को नीला ग्रह भी कहा जाता है।
  • यह सौरमंडल के आठ ग्रह में से एक मात्र ऐसा ग्रह है।
  • यह एक मात्र ऐसा ग्रह है जहाँ पर जीवन है।
  • पृथ्वी का केवल एक ही प्राकृतिक उपग्रह है जिसको हम चंद्रमा के नाम से जानते हैं।
  • सभी ग्रहों की तरह पृथ्वी सूर्य की परिक्रमा करती है।
  • पृथ्वी की आकृति जियोड है।
  • पृथ्वी पर धीरे-धीरे बदला हो रहे हैं यह एक ऐसा ग्रह है जिसका सूर्य से एक उच्चतम दूरी बेहतर जलवायु और समय-समय पर बदलते मौसम के कारण यहाँ पर जीवन संभव है।
  • पृथ्वी की सबसे ऊपरी सतह बहुत कठोर है यह पत्थरों और मिट्टी से मिलकर बनी है इसकी सतह पर विशाल पर्वत, द्वीप, समुद्र, नदियाँ और पठार जैसी बहुत ही सुंदर प्रकृति और सुंदर संरचनाएँ हैं।
  • सूर्य से पृथ्वी तक पहुँचने में8.3 मिनट का समय लगता है।
  • पृथ्वी से चंद्रमा की औसत दूरी 384000 किलोमीटर होती है।

मंगल (Mars)

मंगल को अंग्रेजी में Mars के नाम से जाना जाता है Mars और सौरमंडल का दूसरा सबसे छोटा ग्रह है मार्च को Red Planet के नाम से भी जाना जाता है क्योंकि इस ग्रह का सोर्स यानी के धरातल लोहे के जंग की तरह दिखाई देता है। इसलिए इसको Red Planet कहते हैं। मंगल ग्रह है को सूर्य का चक्कर काटने में करीब 687 दिन का समय लगता है।

  • मंगल ग्रह सूर्य से चौथे स्थान पर आता है सौरमंडल का दूसरा सबसे छोटा ग्रह है।
  • इसको Red Planet भी कहते हैं क्योंकि इसका धरातल जंग लगे लोहे की तरह दिखाई देता है।
  • मंगल ग्रह पर एक विशाल ज्वालामुखी है जिसका नाम Olympus Mons है।
  • मंगल के 2 उपग्रह हैं जिनका नाम फो़बोस और डिमोज़ है इन दोनों का आकार अनियमित और छोटा है।
  • मंगल ग्रह को रात में नंगी आंखों से भी देखा जा सकता है।
  • इस पर वायुमंडल अत्यंत वायरल है।
  • डिमोज़ सौरमंडल का सबसे छोटा उपग्रह है।

बृहस्पति (Jupiter)

बृहस्पति को अंग्रेजी में Jupiter के नाम से जाना जाता है ऐसा कहा जाता है कि जुपिटर सौरमंडल का सबसे बड़ा ग्रह है Jupiter का एक नहीं बल्कि इस ग्रह के 79 उपग्रह है। जिनमें से सबसे बड़ा उपग्रह Ganymede को माना जाता है। जुपिटर ग्रह भी सूर्य की तरह ही Hydrogen और Helium से बना हुआ है जुपिटर को सूर्य के चक्कर काटने में करीब 11 पॉइंट 86 वर्ष जितना समय लगता है।

  • बृहस्पति सौरमंडल का सबसे बड़ा और सूर्य का पांचवा ग्रह है।
  • इस ग्रह का द्रव्यमान पृथ्वी की तुलना में 300 गुना अधिक है।
  • सूर्य की तरह जुपिटर का अधिकांश हिस्सा हाइड्रोजन और हीलियम से बना है तथा अमोनिया, मेथेन और पानी का भी कुछ अंश है पर यह बहुत कम मात्रा में है।
  • इस ग्रह का द्रव्यमान सौरमंडल में मौजूद अन्य 7 ग्रह से ढाई गुना और सूर्य के हजारवें भाग की बराबर है।
  • बृहस्पति ग्रह की सूर्य से दूरी 77 करोड़ 88 लाख किलोमीटर है इसको सूर्य का एक संपूर्ण चक्कर लगाने में 11.86 साल का समय लगता है।
  • इसके 79 उपग्रह हैं जिनमें गेनीमेड सबसे बड़ा है।
  • यह तारा और यह दोनों के गुणों से युक्त है क्योंकि इसके पास स्वयं की रेडियो ऊर्जा है।
  • इसका वायुमंडलीय दाब सूर्य की तुलना में एक करोड़ गुना अधिक है।

शनि (Saturn)

शनि को अंग्रेजी में Saturn के नाम से जाना जाता है सूर्य की दूरी के मामले में देखा जाए तो यह छठे स्थान पर है शनि ग्रह सूर्य के करीब 1.434 बिलियन किमी की दूरी पर स्थित है शनि ग्रह के चारों और बहुत से छल्ले हैं जिनको Saturn Rings कहा जाता है किस ग्रह को सूर्य के चक्कर काटने में लगभग 29.5 वर्ष का समय लगता है।

  • शनि ग्रह बृहस्पति के बाद सौरमंडल का सबसे बड़ा और सूर्य से छोटा ग्रह है।
  • सूर्य से इसकी दूरी 1.434 billion किलोमीटर है।
  • शनि ग्रह का व्यास1, 16, 460 किलोमीटर है।
  • शनि का सबसे बड़ा उपग्रह टाइटन है तथा यह सौरमंडल का दूसरा सबसे बड़ा उपग्रह है इस उपग्रह का आकार बुध ग्रह से बड़ा है जो कि वायुमंडल को संजो कर रखने वाला एकमात्र उपग्रह है।
  • इसे गोला या गैलेक्सी समान ग्रह भी कहा जाता है।

अरुणा (Uranus)

अरुण को अंग्रेजी में Uranus कहते हैं इस ग्रह को लेटा हुआ ग्रह भी कहा जाता है। अरुण यानी Uranus ग्रह की खोज विलियम हरसिल द्वारा 1781 में की गई थी अरुण ग्रह का उपरी तापमान बहुत ठंडा होता है अरुण ग्रह को सूर्य का चक्कर काटने में करीब 84 वर्ष का समय लगता है।

  • अरुण सूर्य से 7 वा ग्रह हैयदि इसके व्यास की बात की जाए तो यह सौरमंडल का तीसरा सबसे बड़ा ग्रह है
  • अरुण का आकार पृथ्वी से 63 गुना अधिक बड़ा है और यह द्रव्यमान में पृथ्वी से 14.5 गुना अधिक भारी है
  • यह अपने अक्ष पर दक्षिणावर्त घूमता है
  • इसे लेटा हुआ ग्रह भी कहते हैं
  • इसके सभी उपग्रह पृथ्वी के विपरीत दिशा में परिभ्रमण करते हैं
  • ऊपरी वातावरण में तापमान काफी ठंडा होता है
  • इसका द्रव्यमान पृथ्वी के द्रव्यमान का लगभग 14.5 गुना है

वरुण (Neptune)

वरुण को Neptune नाम से भी जाना जाता है। वरुण ग्रह के 13 उपग्रह हैं जिनमें से 3 टन और मैड्रिड को प्रमुख माना जाता है और इस ग्रह को सूर्य की दूरी के मुकाबले आठवें स्थान पर रखा गया है क्योंकि यह सूर्य से करीब 4.4 95 बिलियन की मी दूरी पर है इस ग्रह को सूर्य का चक्कर काटने में सबसे अधिक समय लगता है इसको एक चक्कर काटने के लिए करीब 164.79 वर्ष का समय लगता है।

  • वरुण सूर्य से आठवां सबसे दूर वाला ग्रह है।
  • सूर्य से इस ग्रह की दूरी 4.495 billion किलोमीटर है।
  • इसका द्रव्यमान पृथ्वी के द्रव्यमान का 17 गुना है।
  • अरुण और वरुण यह काफी हद तक एक जैसे ही है अरुण और वरुण ग्रह की सतह पर बृहस्पति और शनि की अपेक्षा अधिक पर जमी हुई है जिसमें अमोनिया और मेथेन गैस मुख्य है।
  • अरुण ग्रह का वातावरण लगभग 80% हाइड्रोजन और 19% हीलियम से बना है इसके अलावा इसमें थोड़ी मात्रा में पानी और मेथेन भी मिलता है।
  • वरुण के तेहरा प्राकृतिक ज्ञात उपग्रह है जिनमें ट्राइटन डस्पीना और थलेसा मुख्य है।

सौर मंडल क्या है | What is The Saur Mandal

सौरमंडल और खगोलीय पिंड से मिलकर बना है यह सभी एक दूसरे से गुरुत्वाकर्षण बल के द्वारा जुड़े हुए हैं साधारण शब्दों में कहा जाए तो सूर्य के चारों ओर चक्कर लगाने वाले या उपस्थित ग्रहो क्षुद्र ग्रहों धुमकेतुवों तथा अन्य सभी आकाशीय पिंडों का समूह परिवार को सौरमंडल कहते हैं ब्रह्मांड में किसी तारे के पास परिक्रमा करते हुए खगोलीय वस्तुओं को ग्रह मंडल कहते हैं। जो कि दूसरे तारे ना हो जैसे कि प्राकृतिक उपग्रह घूमेकेतु खगोलीय धूल और बोन ग्रह सूर्य हमारे सौरमंडल का सबसे बड़ा तारा है इसके आसपास सबसे अधिक ग्रह पिंड चक्कर लगाते हैं सूर्य ग्रह को मिलाकर ही हमारा सौरमंडल बनता है।

सौरमंडल में सूर्य और अन्य सभी खगोलीय पिंड शामिल है किस मंडल में गुरुत्वाकर्षण बल के द्वारा बंधे हुए हैं अब आप यह सोच रहे होंगे कि खगोलीय पिंड क्या है Planets Name in Hindi तो आपको बता दें कि जिनसे मिलकर ग्रह मंडल बनता है खगोलीय पिंड को ही खगोलीय वस्तु कहा जाता है यह वस्तु है सौरमंडल में प्राकृतिक रूप से पाई जाती है यानी इनका निर्माण किसी मनुष्य द्वारा या किसी मशीन के द्वारा नहीं होता है यह ब्रह्मांड में प्राकृतिक रूप से पहले से ही मौजूद होती है जैसे कि उल्कापिंड, आकाशगंगा, उपग्रह, तारे ब्लैक होल और बोन ग्रह आदि।

सूर्य से बढ़ते क्रम में ग्रहों की दूरी

सूर्य से बढ़ते हुए क्रम में ग्रहों की दूरी का नाम इस प्रकार है बुध शुक्र पृथ्वी मंगल बृहस्पति शनि अरुण वरुण हमने इसे सूर्य से बढ़ते हुए दूरी मिलियन के अनुसार नीचे ग्राफ के माध्यम से आप को समझाने की कोशिश की है।

Planets Name in HindiVideo

निष्कर्ष

सौरमंडल में पहले नौ ग्रह हुआ करते थे। यह नौवा ग्रह प्लूटो था, जिसे अब सौर मंडल के ग्रहों की सूचि से बाहर कर दिया गया है। इस ग्रह की गिनती अब बौने ग्रहो में होती है। वर्तमान में सौरमंडल में आठ ग्रह है जिनके नाम बुध, शुक्र, पृथ्वी, मंगल, बृहस्पति, शनि, अरुण और वरुण है।

आपसे उम्मीद है कि आपको यह लेख अच्छे से समझ में आ गया होगा और आपने सौरमंडल के सभी आठ ग्रहो के नाम भी याद कर लिए होंगे।

अगर आपको यह Planets Name in Hindi, Planets Name in Hindi and English और  All Planet Names In Hindi And English अच्छा लगा होगा। अगर आपको यह लेख सौरमंडल के ग्रहों के नाम और चित्र अच्छा लगा है तो इसे अपनों के साथ भी शेयर अवश्य करे।

इस लेख Planets Name in Hindi के अंत तक बने रहने के लिए आपका धन्यवाद।

FAQs

Q: सौरमंडल में कितने ग्रह हैं?

Ans: सौरमंडल में कुल 8 ग्रह हैं। जिनके नाम है–बुध, शुक्र, पृथ्वी, मंगल, बृहस्पति, शनि, अरुण और वरुण।

Q: सूर्य से ग्रहों की दुरी का सही क्रम क्या है?

Ans: सूर्य से ग्रहों की दुरी का सही क्रम है–बुध > शुक्र > पृथ्वी > मंगल > बृहस्पति > शनि > अरूण > वरूण।

Q: 8 ग्रहों के नाम क्या है?

Ans: 8 ग्रहों के नाम है–बुध, शुक्र, पृथ्वी, मंगल, बृहस्पति, शनि, अरुण और वरुण।

Q: कौनसा ग्रह कितने दिनों में सूर्य की परिक्रमा पूरी करता हैं?

Ans: बुध ग्रह 88 दिन, शुक्र 225 दिन, पृथ्वी 365 दिन, मंगल 687 दिन, बृहस्पति 11.86 वर्ष, शनि 29.5 वर्ष, अरुण 84 वर्ष और वरूण 164.79 वर्ष में सूर्य की परिक्रमा पूरी करता हैं।

Q: ग्रहों की दूरी को कैसे नापते हैं?

Ans: रेडियों तरंगो से ग्रहों की दूरी नापते है।

Q: सूरज की परिक्रमा कितने ग्रह करते हैं?

Ans: सौरमंडल के सभी आठों ग्रह सूर्य की परिक्रमा करते है।

Q: सौर मंडल में सूर्य के सबसे नजदीक कौन-सा ग्रह है?

Ans: बुध, सौर मंडल में सूर्य के सबसे निकट का ग्रह है।

Q: सौरमंडल का सबसे बड़ा ग्रह किसे माना जाता है?

Ans: बृहस्पति को सौरमंडल का सबसे बड़ा ग्रह माना जाता है।

Q: शनि को सूर्य की परिक्रमा करने में कितना समय लगता है?

Ans: शनि को सूर्य की परिक्रमा करने में लगभग 29.5 वर्ष लगते हैं।

Q: शनि को सूर्य की परिक्रमा करने में लगभग 29.5 वर्ष लगते हैं।

Ans: पृथ्वी को सूर्य की परिक्रमा करने में लगभग 1 वर्ष यानी 365 दिन का समय लगता है।

Q: सौरमंडल में सूर्य के सबसे पास कौन-सा ग्रह है?

Ans: Mercury ग्रह सौरमंडल में सूर्य के सबसे पास है।

Q: ग्रहों के नाम बताएँ?

Ans: नौ ग्रहों के नाम मंगल बुध शुक्र शनि पृथ्वी बृहस्पति अरुण वरुण है।

Q: संसार में कुल कितने ग्रह हैं?

Ans: संसार में कुल 8 ग्रह है।

Q: शनि ग्रह को सूर्य का चक्कर काटने में कितना समय लगता है?

Ans: शनि ग्रह को सूर्य का चक्कर काटने में लगभग 29.5 वर्ष कितना समय लगता है।

Q: संसार के सबसे बड़े ग्रह का नाम क्या है?

Ans: बृहस्पति (Jupiter) संसार का सबसे बड़ा ग्रह है।

ये भी पढ़े……..

Leave a Comment